भारत में होने वाले वन-डे और टी20 मैचों में हो सकता है कुछ खास बदलाव

medhajnews 13 Mar 18 , 06:01:38 Sports
621957_KookaburraballCricketball_1382631369_714_640x480.jpg

सब कुछ ठीक रहा तो भारतीय जमीन पर टीम इंडिया के होने वाले सीमित ओवर क्रिकेट के मैच कूकाबुरा की बजाय एसजी गेंद से होंगे। घरेलू कोच और कप्तानों की मुंबई में हुई वार्षिक बैठक में इस बारे में चर्चा की गई है। इस दौरान अन्य कई मुद्दों पर भी बातचीत हुई जिसमें अम्पायरिंग के खराब स्तर पर बातचीत हुई।

बीसीसीआइ ने एसजी की सफेद गेंद का इस्तेमाल मुश्ताक अली टी-20 और विजय हजारे ट्रॉफी में इस सत्र में एक प्रयोग के तौर पर किया था। मुंबई में हुए कप्तान-कोच सम्मेलन के दौरान इसको लेकर जीएम (क्रिकेट ऑपरेशन) सबा करीम के साथ चर्चा की गई। सूत्र ने बताया कि हम अगले सत्र में भारतीय टीम को सीमित ओवरों में एसजी सफेद गेंद के साथ खेलते देखेंगे।

पीटीआई से बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आईसीसी के एलिट पैनल में भारत से सिर्फ सुन्दरम रवि है इससे अंदाज लगाया जा सकता है कि अम्पायरिंग का स्तर कैसा है।

उल्लेखनीय है कि एसजी की गेंद पर सीम ऊभरी हुई रहती है, जबकि कूकाबुरा में ऐसा नहीं होता। इसके अलावा कूकाबुरा की गेंद मशीन से तैयार होती है जबकि एसजी की गेंद हाथ से बनाई जाती है। एक और अंतर इन दोनों गेंदों में यह भी है कि एसजी की सभी गेंदों की साइज अलग होती है जबकि कूकाबुरा में सब गेंदों का आकार एक जैसा होता है।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...

    Similar Post You May Like